राई के फायदे – Rye Benefits In Hindi

राई के फायदे – Rye Benefits In Hindi


1. राई को पानी में पीसकर, पेट पर मलमल का कपड़ा बिछाकर लेप करें। दस मिनट बाद हटा दें। पेट दर्द में आश्चर्यजनक लाभ होता है।

2. साठ ग्राम पिसी हुई राई आधा किलो पानी में उबालें। चौथाई पानी रहने पर स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाकर हर घंटे से पिलाते रहने से हिचकी बन्द हो जाती है।

3. 10 ग्राम राई, 250 ग्राम पानी में उबाल कर छान कर गुनगुना रहने पर पिलाने स हिचकी बन्द हो जाती है, हिचकी चाहे किसी भी कारण से हो।

4. आधा चम्मच सेंधा नमक, चार चम्मच राई पानी डालकर पीसकर यकृत-स्थान पर पाँच मिनट लेप करें और फिर धोकर घी लगा दें। इससे लिवर (यकृत) में हो रहे दर्द में लाभ होता है।

5. 15 ग्राम गुड़ और 15 ग्राम सरसों का तेल मिलाकर चाटने से सूखी खांसी में लाभ होता है।

6. 3 चम्मच राई रात को पानी में भिगो दें। पानी कम और इतना ही डालें कि राई उसे सोख लें। प्रातः इसे पीस कर चेहरे पर लेप करें। 20 मिनट बाद धोयें। कील-मुंहासे मिट जायेंगे।

7. राई पीसकर सुँघाने से मिरगी की बेहोशी दूर हो जाती है।

8. चार चम्मच पिसी हुई राई को दो गिलास पानी में उबाल कर छानकर उसमें कपड़ा भिगोकर पेट का सेक करें। इससे मासिक स्राव खुलकर आता है, मासिक स्राव में होने वाला दर्द ठीक हो जाता है।