Mehendi designs ideas 2021 | simple mehndi design Mehendi designs ideas 2021 | simple mehndi design


दिल की बीमारी के लिए घरेलू उपाय | Heart disease Solution In Hindi

Mar 02,2021 04:36 AM posted by Admin

Heart disease solution in Hindi: हृदय (Heart) हमारे जीवन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होता है, या ये कह लो, कि कोई भी इन्सान इसके बिना जिन्दा नहीं रह रह सकता है, इसलिए दोस्तों आप सभी लोग हृदय(Heart ) को संभाल कर रहो, क्योकि इसकी कोई कीमत नहीं होती ये आपके जीवन (Life) के लिए अमूल्य है , तो आएये दोस्तों अब हम जानते है, दिल की बीमारी के बारे में कुछ घरेलू उपचार दिल की बीमारी के लिए घरेलू उपाय | Heart disease Solution In Hindi

हृदय रोग ( दिल की बीमारी) के लक्षण | Symptoms of heart disease in Hindi

आप बीमारी की दवा तभी दे सकते है, जब आपको पता होगा कि मरीज को किस तरह की बीमारी है | तो दोस्तों अब हम सबसे पहले दिल की बीमारी के कुछ लक्षण जानते है, नीचे लिखे सभी लक्षण दिल की बीमारी के लक्षण (Symptoms of heart disease in Hindi) है -

  • बेहोश होना |
  • चक्कर आना |
  • कमर में दर्द होना |
  • छाती का जकड़ना |
  • छाती में दर्द का होना |
  • हाथो में दर्द का होना  |
  • साँस लेने में समस्या |
  • ह्रदय में जलन का होना |
  • बहुत ज्यादा पसीना आना |
  • बार-बार थकान महसूस होना |
  • छाती पर बहुत ज्यादा दबाव महसूस होना |

हृदय रोग ( दिल की बीमारी ) का कारण | Reasons for heart disease

दो वजह से दिल की बीमारी इन्सान को हो सकती है , पहला इन्सान को जन्मजात से ही इस बीमारी का शिकार हो, और दूसरा जब इन्सान कुछ ऐसी चीजो की लत लग जाती है |

  • तनाव के कारण |
  • नकारात्मक सोच रखने से |
  • पोष्टिक आहार न मिलने से |
  • बीडी, सिगरेट , गुटका आदि खाने से |

घरेलू नुस्खे जो दिल की बीमारी के लिए रामबाण

दोस्तों, घरेलू नुस्खो का कोई भी Side Effect नहीं होता है, अगर मरीज की Condition बहुत ज्यादा ख़राब है,तो आप डॉक्टर की सलाह सबसे पहले ले | अगर आप डॉक्टर को दिखा रहे, तो भी आप घरेलू नुस्खो से उपचार कर सकते है , तो आएये दोस्तों अब हम दिल की बीमारी के लिए कुछ नुस्खे जानते है -

लहसुन से करे दिल की बीमारी को दूर (Garlic To Heart Disease In Hindi )

हमारे घर के रसोईघर में पाई जाने वाली यह लहसुन दिल की बीमारी के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है | यह लहसुन हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल और धमनी रोग में फायदेमंद पाया गया है। और साथ में ही यह लहसुन ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है। दिल की बीमारी के लिए इसका प्रयोग इस तरह से करना है-

  • रोजाना 1 या 2 लहसुन की कलियों को कूटकर सेवन करें। इसके बाद अगर आप चाहे, तो 1 गिलास दूध पी ले |
  • अगर आप पहले नुस्खे का सेवन नहीं कर पाते है , क्योकि उसका स्वाद आपको अच्छा नहीं लगेगा, तो आप बाज में मिलने वाली लहसुन के सप्लीमेंट (Medicine ) का प्रयोग करे | इस Medicine को दिन में 3 बार (600 से 1200 mg की टेबलेट्स ) लेनी है |

शहद से करे दिल का उपचार ( Honey Heart Disease In Hindi )

शहद दिल के लिए बहुत ही लाभदायक होता है, ये ये हार्ट को फ़ैल से बचाता है,जब आपके दिल की धड़कन तेज हो जाए, और दम घुटने लगे, तो इस घरेलू नुस्खे का प्रयोग ऐसे करे -

  •   जैसे ही आपका दम घुटने लगे, तुरंत आप 2 चम्मच शहद खाए, फिर देखे इस शहद कमाल आपको एक नई शक्ति मिल जाएगीं |
  • यदि आप केवल शहद नहीं खा सकते है, तो आप 2 चम्मच शहद को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाके पी जाए, फायदा एक ही जैसे होगा |

अर्जुन के पेड़ की छाल से उपचार ( Heart Disease In Hindi)

अर्जुन के पेड़ की छाल दिल की बीमारी के लिए काफी फायदेमंद नुस्खा है। यह हर्ब cardiac muscle को मजबूत करती है, और साथ ही  arterial congestion और ब्लड प्रेशर को कम करती है | इस औषधि का ज्यादा प्रयोग और अधिक समय तक इस्तेमाल करने से कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होते है।

  • सबसे पहले अर्जुन के पेड़ की छाल का पाउडर ले ले फिर 1 गिलास गुनगुने दूध में डेढ़ चम्मच अर्जुन के पेड़ की छाल का पाउडर और थोड़ा सा शहद मिलाकर सेवन करें। याद रहे इस नुस्खे को लगातार कुछ महीनों के लिए रोज दिन में तीन बार करना।
  • या फिर आप इसके सप्लीमेंट यानि टेबलेट भी ले सकते हैं। हर 8 घंटे में एक 500 mg वाली टेबलेट का सेवन करें। इसका सेवन लगातार तीन महीने के लिए करें।

गुडहल से दिल का उपचार (Hibiscus Heart Disease In Hindi)

गुडहल के फूल से दिल की बिमारियों में बहुत ही ज्यादा लाभ मिलता है। बस इसको आप नियमित सेवन करते रहे-

  • 1 कप पानी में दो गुडहल के फूल की पत्तियों को उबाल ले । फिर इसे छानकर 1 चम्मच शहद मिला दें। कुछ हफ़्तों के लिए इसका रोज एक बार सेवन करें।

हल्दी से दिल का उपचार (Turmeric Heart Disease In Hindi)

हल्दी atherosclerosis को रोकने में बहुत Help करती है। कोलेस्ट्रॉल, plaque buildup और clot formation को रोककर दिल को स्वस्थ बनाये रखने में Help करती है ।

  • हर रोज खाने में हल्दी का उपयोग करें।
  • आप 1 गिलास दूध में 1 चम्मच हल्दी को उबालकर भी सेवन कर सकते हैं। दिन इसका सेवन एक या दो बार करना है।

लाल मिर्च से दिल का उपचार (Cayenne Heart Disease In Hindi)

लाल मिर्च में capsaicin नामक कंपाउंड पाया जाता है जो हार्ट और सर्कुलेटरी प्रॉब्लम्स का उपचार करने में फायदेमंद होता है। और ये साथ में ही रोग रोकने में मदद करता है |

  • 1 गिलास गुनगुने पानी में 1 चम्मच लाल मिर्च मिलाकर इसका सेवन करे । इसका सेवन दिन में 2-3 बार करें। लाल मिर्च से जलन होने पर एक-दो चम्मच शहद का सेवन कर सकते है।

अल्फला (रिजका) से दिल का उपचार ( Alfalfa Heart Disease In Hindi )

अल्फला कोलेस्ट्रॉल लेवल और plaque buildup को रोक के दिल की बीमारी होने की सम्भावना को कम करता है।

  • रोज दिन में दो-तीन बार अल्फला की चाय या जूस का सेवन करें।

मेंथी से दिल का उपचार (Fenugreek Heart Disease In Hindi)

मेंथी दिल की बीमारी की सम्भावना को कम करने में काफी फायदेमंद होती है। प्लेटलेट जमा होने से रोकती है, और हार्ट अटैक होने की सम्भावना कम हो जाती है। और ये हर जगह मिल भी जाता है  -

  • रात को 1 चम्मच मेंथी के बीजों को पानी में डुबोकर रख दें। अगली सुबह, इन बीजों को खली पेट सेवन करें। कुछ महीनों के लिए इसे रोज करें।

ग्रीन टी से दिल का उपचार (Green tea Heart Disease In Hindi)

ग्रीन टी (Green Tea) हार्ट और ब्लड वेसल्स की इनर लाइन के सेल्स की हेल्थ को बढ़ाते हैं। और साथ ही ग्रीन टी(Green Tea) ब्लड शुगर को कण्ट्रोल करने में मदद करती है -

  • हर रोज 3-4 कप कैफीन-फ्री ग्रीन टी (Green Tea) का सेवन करें।

 

दिल की बीमारी के लिए अन्य घरेलू उपाय

  • तनाव को कम करे |
  • नशीली चीजो का सेवन बिल्कुल न करे |
  • घी और गुड मिलाकर खाने से बहुत फायदा (दिल की बीमारी के लिए ) मिलाता है |
  • हर रोज अरबी की सब्जी खाने से बहुत फायदा (दिल की बीमारी के लिए ) मिलाता है |
  • खाने में नमक को कम करे बहुत फायदा (दिल की बीमारी के लिए ) मिलाता है |
  • सकारात्मक सोच रहे |