सरसों के तेल के फायदे – Sarso ke tel ke fayde, labh in hindi

सरसों के तेल के फायदे – Benefits of Mustard Oil in Hindi


1. 15 ग्राम गुड़ और 15 ग्राम सरसों का तेल मिलाकर चाटने से सूखी खांसी में लाभ होता है।

2. 20 ग्राम सरसों का तेल, 25 ग्राम नीबू का रस मिला कर लगाने से जुएं नष्ट हो जायेंगी।

3. सिर के जिस आधे भाग में दर्द हो उस नथुने में 8 बूंद सरसों का तेल डाल कर सूंघने से आधे सिर का दर्द शीघ्र बन्द हो जाता है।

4. सोने से पहले सरसों का तेल नाभि पर लगाने से होंठ नहीं फटते।

5. हल्दी, सरसों का तेल और नमक मिलाकर मंजन पीलापन जाएगा।

6. हल्दी, नमक और सरसों का तेल मिलाकर नित्य मंजन करने से दांत मजबूत होते है।

7. एक-दो बार सरसों का तेल एक नथुने से सूंघने पर दांत का दर्द कुछ समय के लिए बन्द हो जाता है।

8. सरसों के तेल को गर्म करके कान में डालने से कान दर्द ठीक हो जाता है।

9. सरसों के तेल में लौंग जलाकर, तेल को कान में डालने से लाभ होता है।

10. सरसों के तेल में लहसुन उबाल कर छान लें।और इसे कान में डालने से कान का दर्द कम होता है और घाव मवाद बहना भी ठीक हो जाता है।

11. कान में कीड़ा चला गया हो तो सरसों के तेल को गर्म करके डालने से कीड़ा बाहर आ जाता है। ( ध्यान रहे तेल ज्यादा गर्म न हो। )

12. रात में चार चम्मच सरसों पानी में भिगो दें। पानी इतना ही डालें कि सरसों सोख ले। फिर इसमें इतनी ही चिरौंजी डाल कर दूध में पीसें। इसको बदन पर मलें। सौन्दर्य बढ़ेगा।

13. दो गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सरसों का तेल मिलाकर प्रतिदिन दोनों पैर इस पानी में रखें और पाँच मिनट तक धोयें इससे पैर का जलन होना बन्द हो जाता है

14. नीम  की पत्तियों का रस, दो चम्मच सरसों का तेल, चार चम्मच पादो नी में उबालें। जब सारा पानी जल कर तेल ही रह जाये तब ठंडा करके छान लें। इसे घावों पर लगायें, पट्टी बाँधे। घाव भरकर ठीक हो जायेंगे

15. लाल मिर्च 125 ग्राम और सरसों का तेल 375 ग्राम दोनों को गरम करें। अच्छी तरह उबलने पर छान लें। यही लाल मिर्च का तेल है। नमक सर्दियों में होने वाले चर्म-रोगों में गर्म पानी में नमक मिलाकर नहाना लाभदायक है।

16. पैरों पर सरसों का तेल मलने से पैर नहीं फटते। सरसों का तेल गर्म करके बिवाइयों को सेंकने से बिवाइयाँ ठीक हो जाती है।

17. सरसों के तेल की मालिश करके गर्म पानी से स्नान करें। इससे पित्ती में लाभ होता है।

18. जले हुए अंग पर सरसों का तेल लगाने से छाला नहीं पड़ता।