लौकी खाने के फायदे और उपयोग – Louki ke Fayde aur Upyog

लौकी खाने के फायदे और उपयोग – Louki ke Fayde aur Upyog


1. लौकी को आँच में सेक कर भुर्ता सा बना लें, फिर इसका रस निकाल लें और रस में मिश्री मिला कर पीने से लिवर (यकृत) से जुडी सभी बीमारी दूर हो जाती है।

2. ताजा लौकी पर जौ के आटे का लेप करें तथा कपड़ा लपेटकर भोभल (आग) में दबा दें। जब भुर्ता हो जाये तो पानी निचोड़ कर शक्ति अनुकूल पिलाते रहें। एक महीने पिलान से रोगी यक्ष्मा (टी.बी.) से ठीक हो जायेगा।

3. बवासीर पर लौकी के पत्तों को पीसकर लेप करने से कुछ ही दिनों में बवासीर नष्ट हो जाते हैं।

4. लौकी के छिलके छाया में सुखा कर पीस लें। इसकी एक चम्मच सुबह-शाम दो बार ठंडे पानी से फंकी लेने से बवासीर में रक्त आना बन्द हो जाता है।

5. लौकी ( घीया ) 24ग्राम, लहसुन 20 ग्राम दोनों को पीस कर एक किलो पाली में उबालें। आधा पानी रह जाने पर छान कर कुल्ले करने से दांत दर्द ठीक हो जाता है।

6. ताजा लौकी के छिलके पीस कर चेहरे पर मलें। चेहरा सुन्दर हो जायेगा।

7. घीया को काटकर इसका गूदा पैर के तलुओं पर मलने से गर्मी, जलन, भभका दूर हो जाता है।

8. बिच्छू के काटे हुए स्थान पर लौकी पीस कर लेप करें तथा इसका रस पिलायें। इससे बिच्छू के काटे का जहर उतर जायेगा।