डॉक्टर: अब नया मरीज कैसा है?

नर्स: बहुत हांफ रहा है। किसी तरह पकड़कर उसके हाथ-पांव बांध दिए

डॉक्टर: जब हांफ रहा है तो पांव क्यों बांध दिए?

नर्स: उसके पांव खुले रहेंगे तो वह सारे वार्ड में मेरे पीछे दौड़ता रहेगा और हांफता रहेगा।

एक डॉक्टर एक लड़की का वजन करने के बाद बोला: आपको तुरंत अस्पताल में दाखिल हो जाना चाहिए।

लड़की :”क्यों डॉक्टर साहब?”

डॉक्टर: क्योंकि तुम्हारा वजन कल से एक किलो कम हो गया है।

लड़की : वो तो होना ही था, मैंने आज मेकअप जो नहीं किया।

जज: जब आपके घर में चोरी हुई उस समय क्या बजा था?

वादी: जी दो लाठियां बजी थीं। एक मेरे कंधे पर और दूसरी मेरे सिर पर।

जज: तुमने सरे आम बाजार में इतने बड़े आदमी को जूता मारकर इनका अपमान किया है, तुम पर पच्चीस रुपए का जुर्माना किया जाता है।

अपराधी: साहब, मेरे पास खुले पैसे नहीं हैं। पचास का नोट है, एक जूता और मार देता हूं।”

जज (अपराधी से):  क्या तुम कभी जेल गए हो?

अपराधी (रोते हुए): जी नहीं, हुजूर।

जज: तो इसमें रोने की क्या बात है, अभी भेज देते हैं।”

जज: तमने अपनी पत्नी की हत्या गला दबाकर क्यों की?

मुजरिम: सर! मैं एक शांतिप्रिय आदमी हूं। रात में रिवॉल्वर चलाकर पड़ोसियों की नींद खराब नहीं करना चाहता था।

वकील (चोर से): मैं तुम्हें छुड़ा सकता हूं, बशर्ते तुम चोरी के बारे में सब कुछ बता दो।”

चोर: वकील साहब, मैं चोरी के विषय में सब कुछ बता दूंगा सिवाय इसके
कि चोरी का माल कहां छुपाया है।”

अदालत में सरकारी वकील ने चीखते हुए कहा-

माय लॉर्ड:  मुल्जिम पर आरोप है कि

उसने अपनी पत्नी को चिड़ियाघर के तालाब में धक्का दे दिया,

जहां मगरमच्छ उसे खा गया।”

जज ने कहा: क्या मुल्जिम को मालूम नहीं कि चिडियाघर के पशु-पक्षियों को गलत-सलत चीजें खिलाना मना है?”

एक डॉक्टर ने शराबी को समझाते हुए कहा-

“तुम्हें शराब छोड़नी ही होगी”

शराबी : क्यों ???

डॉक्टर : तुम्हारे खून का नमूना प्रयोगशाला पहुंचने से पहले ही उड़ गया।

एक शराबी ने अखबार में शराब की बुराइयां पढ़ने के बाद

अखबार को एक तरफ पटका और बोला-“बस आज से बंद।”

पत्नी ने खुश होकर पूछा-“क्या शराब पीना?” “

शराबी: नहीं, अखबार पढ़ना।”