जज (अपराधी से):  क्या तुम कभी जेल गए हो?

अपराधी (रोते हुए): जी नहीं, हुजूर।

जज: तो इसमें रोने की क्या बात है, अभी भेज देते हैं।”

जज: तमने अपनी पत्नी की हत्या गला दबाकर क्यों की?

मुजरिम: सर! मैं एक शांतिप्रिय आदमी हूं। रात में रिवॉल्वर चलाकर पड़ोसियों की नींद खराब नहीं करना चाहता था।

वकील (चोर से): मैं तुम्हें छुड़ा सकता हूं, बशर्ते तुम चोरी के बारे में सब कुछ बता दो।”

चोर: वकील साहब, मैं चोरी के विषय में सब कुछ बता दूंगा सिवाय इसके
कि चोरी का माल कहां छुपाया है।”

अदालत में सरकारी वकील ने चीखते हुए कहा-

माय लॉर्ड:  मुल्जिम पर आरोप है कि

उसने अपनी पत्नी को चिड़ियाघर के तालाब में धक्का दे दिया,

जहां मगरमच्छ उसे खा गया।”

जज ने कहा: क्या मुल्जिम को मालूम नहीं कि चिडियाघर के पशु-पक्षियों को गलत-सलत चीजें खिलाना मना है?”

एक डॉक्टर ने शराबी को समझाते हुए कहा-

“तुम्हें शराब छोड़नी ही होगी”

शराबी : क्यों ???

डॉक्टर : तुम्हारे खून का नमूना प्रयोगशाला पहुंचने से पहले ही उड़ गया।

एक शराबी ने अखबार में शराब की बुराइयां पढ़ने के बाद

अखबार को एक तरफ पटका और बोला-“बस आज से बंद।”

पत्नी ने खुश होकर पूछा-“क्या शराब पीना?” “

शराबी: नहीं, अखबार पढ़ना।”

एक शराबी लड़खड़ाता हुआ चला जा रहा था कि पत्थर से ठोकर खाकर गिर गया।

एक राहगीर ने सहारा देकर उठाते हुए कहा, –

“अरे! तुम्हारी पैंट तो खून से तर-बतर होती जा रही है।”

शराबी फौरन बोला-“शुक्र है! मैं तो समझा था कि जेब में रखी शराब की बोतल टूट गई।”

मंदिर में पप्पू (कोरोना का कहर) - Coronavirus jokes in hindi

मंदिर में पप्पू: पंडितजी, कोरोना वायरस से बड़ा डर लग रहा है। क्या करना चाहिए?

पंडित: डरने की बात नहीं है, हाथ आगे करो।

पप्‍पू: पंडितजी, आज चरणामृत थोड़ा कड़वा नहीं है?

पंडित: अरे मूर्ख, वह सैनेटाइजर था, सफाई के लिए दिया था।

होली में दारू की दास्तान - Happy Holi Funny Daru Jokes In Hindi

आज होली है, सोच रहा हूं दारू छोड़ दूं

आज होली है सोच रहा हूं- दारू छोड़ दूं…

लेकिन किसके पास????

सभी दोस्त साले कमीने हैं, होली के पहले ही पी जाएंगे…।

सोनू: दूध उबल जाने पर लेडीज क्यों दौड़ती हैं?

मोनू: मलाई बचाने?

सोनू: नहीं।

मोनू: दूध बचाने?

सोनू: बिलकुल नहीं।

मोनू: अरे तो फिर किसलिए?

सोनू: ताकि गैस और प्लैटफॉर्म पोछना न पड़े इसलिए।