जीरे के फायदे  – Cumin (Jeera) Benefits in Hindi

जीरे के फायदे  – Cumin (Jeera) Benefits in Hindi


1. दही, सेका हुआ जीरा, नमक और काली मिर्च डाल कर हर दिन खाने से अपच दूर हो जाता है, भोजन शीघ्र पच जाता है।

2. सेके हुए जीरे को पीस कर, एक चम्मच जीरा और एक चम्मच शहद में मिलाकर नित्य खाना खाने के बाद चाटने से गैस ठीक हो जाता है।

3. नीबू की फाँक में काला नमक, काली मिर्च और जीरा भरकर गर्म करके चूसने से पेट का दर्द ठीक हो जाता है।

4. जीरा पीसकर शहद के साथ चाटने से पेट दर्द ठीक हो जाता है।

5. जीरा, धनिया और मिश्री समान मात्रा में मिलाकर सुबह शाम फाँकी लेने से एसिडिटी में लाभ मिलता है।

6. कच्चा पिसा हुआ जीरा एक ग्राम इतने ही गुड़ में मिलाकर तीन बार नित्य लेते रहने से पुराना बुखार ठीक हो जाता है।

7. एक चम्मच जीरा बिना सेका हुआ पीस लें। इसका तीन गुना गुड़ मिलाकर खाने से मलेरिया में राहत मिलती है।

8. गाजर का रस 310 ग्राम, पालक का रस 185 ग्राम मिलाकर नमक, जीरा डालकर पीने से मधुमेह रोग में फायदा होता है।

9. जीरे और चीनी को समान मात्रा में पीसकर एक-एक चम्मच ठण्डे पानी में नित्य तीन बार फंकी लेने से पथरी में लाभ होता है।

10. जीरा और चीनी दोनों को समान मात्रा में पीसकर दो चम्मच तीन बार फँकी लेने से रुका हुआ पेशाब भी खुल जाता है।

11. जीरा और मिश्री पीसकर पानी से फंकी लेने से बवासीर का दर्द दूर हो जाता है।

12. जीरा, सौंफ, धनिया प्रत्येक एक चम्मच को एक गिलास पानी में उबालें। आधा पानी रहने पर छान कर एक चम्मच देशी घी मिलाकर नित्य सुबह-शाम पीने से बवासीर से रक्त गिरना बन्द हो जाता है। यह गर्भवती स्त्रियों के बवासीर में अधिक लाभदायक है।

13. जीरे को पानी में उबालकर उस पानी से नहाने से बदन की खुजली और पित्ती मिट जाती है।

14. एक ग्राम पिसा हुआ आँवला, एक ग्राम पिसा हुआ काला जीरा और दो ग्राम पिसी हुई मिश्री मिलाकर फंकी लें। ऊपर से ठण्डा पानी पीयें। बिस्तर में पेशाब करने का रोग दूर हो जायेगा।

15. गर्म पानी में नीबू, नमक, जीरा, हींग भुना हुआ और पोदीना मिलाकर पीयें। यह प्रयोग कम-से-कम एक माह करने से हिस्टीरिया दूर हो जाता है।

16. स्तनों में दूध की कमी होने पर जीरा भूनकर चीनी के साथ दो बार दें, दूध बढ़ेगा।

17. जीरे को भून कर खाने से मुंह से आने वाली बदबू दूर हो जाती है।

18. जीरा सेक कर पीस कर एक चम्मच लेकर एक चम्मच शहद में मिलाकर खाना खाने के बाद नित्य चाटने से नेत्र दुखने में लाभदायक रहता है।

19. जीरा और चीनी समान मात्रा में पीस कर एक-एक चम्मच तीन बार नित्य फँकी लेने से सूजन में लाभ होता है।

20. रोजाना सुबह टमाटर के रस का एक गिलास और नमक, जीरा, काली मिर्च डालकर पीयें। इससे चेहरे के झाई, दाग, धब्बे हट जायेगे

21. जीरे को पानी में उबालकर उस पानी से नहाने से बदन की खुजली और पित्ती मिट जाती है।

22. जीरा और 20 काली मिर्च पानी में डाल कर पीसकर कुत्ते द्वारा काटे स्थान पर लगायें। इससे कुत्ते के काटे का विष नष्ट हो जायेगा।