स्वतंत्रता दिवस शायरी – Independence Day Shayari

Independence Day In Hindi: जब हम स्वतंत्र होते है, तो उस समय हम एक अलग तरह की ख़ुशी महसूस करते है, 15 अगस्त यानि आज के दिन ही हमारा देश स्वतंत्र हुआ था, इस पोस्ट में स्वतंत्रता दिवस [15 अगस्त 1947 ] के ऊपर शायरी लिखी गई है, दोस्तों इमेज को अपने प्रोफाइल (Facebook, Whatsapp) पर लगाने के साथ-साथ अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे, आइये जानते है  -स्वतंत्रता दिवस पर शायरी इन हिंदी:

स्वतंत्रता दिवस की शायरी इमेज इन हिंदी – Swatantrata Diwas Ki Shayari Image In Hindi


स्वतंत्रता दिवस शायरी (Swatantrata Diwas Shayari): 1

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस शायरी इमेज (Swatantrata Diwas Shayari Image): 1

15-august--स्वतंत्रता-दिवस-पर-शायरी-इन-हिंदी-Independence-Day-Shayari-In-Hindi

स्वतंत्रता दिवस शायरी (Swatantrata Diwas Shayari): 2

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,
हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे,
हम मिलजुल के रहे ऐसे की,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस शायरी इमेज (Swatantrata Diwas Shayari Image): 2

स्वतंत्रता दिवस की शायरी इन हिंदी – Swatantrata Diwas Ki Shayari In Hindi
स्वतंत्रता दिवस शायरी (Swatantrata Diwas Shayari): 3

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस शायरी इमेज (Swatantrata Diwas Shayari Image): 3
स्वतंत्रता दिवस की शायरी इन हिंदी - Swatantrata Diwas Ki Shayari In Hindi

स्वतंत्रता दिवस शायरी (Swatantrata Diwas Shayari): 4

मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ,
वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ ,
क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का ,
मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ  ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस शायरी इमेज (Swatantrata Diwas Shayari Image): 4india independence स्वतंत्रता दिवस की शायरी इन हिंदी Swatantrata Diwas Ki Shayari In Hindi

आजादी की शायरी इन हिंदी – Aajadi Ki  Shayari In Hindi


आजादी की शायरी (Aajadi Ki  Shayari): 1

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,
हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे,
हम मिलजुल के रहे ऐसे की,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे ।। Independence Shayari ।।

आजादी की शायरी (Aajadi Ki  Shayari): 2

आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे,
जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे.
क्योंकि भारत हमारा देश है,
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे ।। Independence Shayari ।।

आजादी की शायरी (Aajadi Ki  Shayari): 3

ना जियो घर्म के नाम पर,
ना मरों धर्म के नाम पर,
इंसानियत ही है धर्म वतन का,
बस जियों वतन के नाम ।। Independence Shayari ।।

आजादी की शायरी (Aajadi Ki  Shayari): 4

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका,
जब तक दिल में जान हैं ।। Independence Shayari ।।

शहीदों पर शायरी इन हिंदी – Shahido Par Shayari In Hindi


शहीदों पर शायरी (Shahido Par Shayari): 1

लहराएगा तिरंगा अब सारे आस्मां पर,
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर,
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान,
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर ।। Independence Shayari ।।

शहीदों पर शायरी (Shahido Par Shayari): 2

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये ,
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये ,
दिल एक है जान एक है हमारी ,
हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी ।। Independence Shayari ।।

शहीदों पर शायरी (Shahido Par Shayari): 3

आओ झुक कर सलाम करे उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होता है वो खून,
जो देश के काम आता है ।। Independence Shayari ।।

शहीदों पर शायरी (Shahido Par Shayari): 4

फना होने की इज़ाजत ली नहीं जाती,
ये वतन की मोहब्बत है जनाब पूछ के की नहीं जाती ।। Independence Shayari ।।

15 अगस्त शायरी इन हिंदी-15 August Shayari In Hindi


15 अगस्त शायरी (15 August Shayari): 1

न मस्जिद को जानते हैं , न शिवालों को जानते हैं,
जो भूखे पेट होते हैं, वो सिर्फ निवालों को जानते हैं,
मेरा यही अंदाज ज़माने को खलता है,
की मेरा चिराग हवा के खिलाफ क्यों जलता है,
में अमन पसंद हूँ, मेरे शहर में दंगा रहने दो,
लाल और हरे में मत बांटो, मेरी छत पर तिरंगा रहने दो ।। Independence Shayari ।।

15 अगस्त शायरी (15 August Shayari): 2

आन देश की शान देश की,
देश की हम संतान हैं,
तीन रंगों से रंगा तिरंगा,
अपनी ये पहचान है  ।। Independence Shayari ।।

15 अगस्त शायरी (15 August Shayari): 3

विकसित होता राष्ट्र हमारा,
रंग लाती हर कुर्बानी है,
फक्र से अपना परिचय देते,
हम सारे हिन्दोस्तानी है ।। Independence Shayari ।।

15 अगस्त शायरी (15 August Shayari): 4

आओ झुक कर सलाम करे उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होता है वो खून,
जो देश के काम आता है  ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस पर शेर इन हिंदी – Swatantrata Diwas Par Sher In Hindi


स्वतंत्रता दिवस पर शेर (Swatantrata Diwas Par Sher): 1

तलवार उठाने से पहले तुम इसीलिए,
मिट जाने वालों का गौरव गान करो ,
आरती सजाने से पहले तुम इसीलिए ,
आजादी के परवानो का सम्मान करो ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस पर शेर (Swatantrata Diwas Par Sher): 2

वतन हमारा मिसाल मोहब्बत की
तोड़ता है दीवार नफरत की,
मेरी खुशनसीबी कि मिली
ज़िन्दगी इस चमन में,
भुला न सके कोई
इसकी खुशबू सातों जनम में ।। Independence Shayari ।।

स्वतंत्रता दिवस पर शेर (Swatantrata Diwas Par Sher): 3

रात के अंधियारे में ,
जब तक रुतबा रहेगा चाँद का ,
कारगिल की चोटियों पर ,
तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का .
धरती क्या आसमान में ,
डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का  ।। Independence Shayari ।।

 
Top