अपच (बदहजमी ) के घरेलू उपचार – Home Remedies For Indigestion In Hindi

अपच या खाना न पचने पर अंगों में दर्द होता है, गैस भरती है भारीपन, बेचैनी, जी मिचलाना, वमन आदि होते हैं। खाना न पचने की वजह से हमें बहुत सारी समस्यो का सामना करना पड़ता है। अपनी बदहजमी को इन घरेलू नुस्खे से सही कर सकते हो। तो आइये जानते है अपच (खाना पचाने) के घरेलू उपचार-

अपच (बदहजमी ) के घरेलू उपचार – Home Remedies For Indigestion In Hindi

अपच (बदहजमी ) के घरेलू उपचार – Home Remedies For Indigestion In Hindi


1. अपच होने पर नीबू की फाँक पर नमक डाल कर गर्म करके चूसने पर खाना आसानी से पच जाता है। और साथ ही यकृत के समस्त रोगों में नीबू लाभदायक है।

2. फूल गोभी का रस और गाजर का रस समान मात्रा में मिलाकर पीते रहने से जोड़ों
और हड्डियों का दर्द के साथ अपच में लाभ होता है।

3. बथुए का रस पीने से पेट के हर प्रकार के रोग यकृत, तिल्ली, अजीर्ण, गैस, कृमि, अर्श (piles), पथरी ठीक हो जाती है।

4. दही, सेका हुआ जीरा, नमक और काली मिर्च डाल कर हर दिन खाने से अपच दूर हो जाता है, भोजन शीघ्र पच जाता है।

5. दो लौंग पीस कर आधा कप पानी में अच्छे से उबले, फिर कुछ ठण्डा होने पर पी जायें। इस प्रकार रोजाना तीन बार करने से अपच दूर हो जाएगा।

6. हींग, छोटी हरड़, सेंधा नमक, अजवाइन सब समान मात्रा में मिलाकर पीस लें। एक चम्मच रोजाना तीन बार गर्म पानी के साथ फंकी लेने से अपच ठीक हो जाता है।

7. हींग से बनी होम्योपैथिक मदर टिंचर की दस बूँद एक चम्मच पानी में मिलाकर पीने से बदहजमी ठीक होती है।

8. जिसे भोजन नहीं पचता हो, खाने के बाद जल्दी ही टटटी जाना पड़ता हो, उसे साठ ग्राम सूखा धनिया, 25 ग्राम काली मिर्च, 25 ग्राम नमक तीनों मिलाने के बाद पीसकर खाना खाने के बाद आधा चम्मच रोजाना फंकी लेने से राहत मिलती है।

9. अमरूद में सौंठ डाल कर पीने से भोजन पचता है। और साथ ही भूख भी अच्छी लगती है। यह कम से कम दस दिन रोजाना पीयें।

10. 25 नीम की पत्ती, तीन लौंग, तीन काली मिर्च पीस कर थोड़ा पानी और शक्कर मिलाकर सुबह-शाम लगातार तीन दिन पीयें। इससे बदहजमी दूर हो जाती है।

11. अपच होने पर भोजन के साथ मूली पर नमक, काली मिर्च डालकर दो माह तक खाने से बदहजमी दूर हो जाती है।

12. अनन्नास की फाँक पर नमक और काली मिर्च डालकर खाने से अपच ( अजीर्ण ) दूर हो जाता है।

13. नाश्ते में पपीते का सेवन करने से खाना पचने की समस्या दूर हो जाती है। यदि आपको मंदाग्नि, अजीर्ण, शल, खट्टी डकारें आने की शिकायत रहती है, तो वह भी दूर हो जाती है।

14. गाजर का रस 310 ग्राम, पालक का रस 185 ग्राम मिलाकर पीने से अपच की समस्या से राहत मिलती है।

15. प्याज काटकर, उस पर नीबू निचोड़ कर भोजन के साथ खाने से अजीर्ण दूर होता है।

16. घी, तेल और मूंगफली का अजीर्ण होने पर छाछ पीने से लाभ होता है।

17. अपच में पाँच ग्राम काला नमक गर्म पानी में घोलकर पिलाने से लाभ होता है।

18. सौंठ का चूर्ण आधा चम्मच, थोड़े-से गुड़ में मिलाकर भोजन करने के बाद कुछ दिन खाने से पाचन अग्नि तीव्र होती है और उदर रोग नष्ट हो जाते हैं।