हिचकी के घरेलू उपाय – Home Remedies For Hiccups In Hindi

हिचकी किसी प्रकार की कोई बीमारी नहीं है। बल्कि यदि हिचकी आए तो लोग यह कहते है कि शायद कोई हमें याद कर रहा है। लेकिन यदि अचानक से ज्यादा हिचकी आनी शुरू हो जाए तो उसका हमें उपचार करना चाहिए। ऐसे में आप यह कुछ घरेलू टिप्स अपनाकर अपनी हिचकी को कण्ट्रोल कर सकते है।

हिचकी के घरेलू उपाय - Home Remedies For Hiccups In Hindi

हिचकी के घरेलू उपाय – Home Remedies For Hiccups In Hindi


1. एक-एक चम्मच नीबू का रस और शहद में स्वादानुसार काला नमक मिलाकर पीने से हिचकी बन्द हो जाती है।

2. कटे प्याज पर नमक डालकर हर घंटे खाने से हिचकी बन्द हो जाती है।

3. साबुत उड़द जलते हुए कोयले या आग पर डालकर धुएँ को सूंघने से हिचकी मिट जाती है।

4. सेंधा नमक, काला नमक और नित्य काम आने वाला नमक ये तीनों समान मात्रा में मिलाकर पीस लें। इसकी आधी चम्मच गर्म पानी में मिलाकर पीयें। हिचकी बन्द हो जायेगी।

5. साठ ग्राम पिसी हुई राई आधा किलो पानी में उबालें। चौथाई पानी रहने पर स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाकर हर घंटे से पिलाते रहने से हिचकी बन्द हो जाती है।

6. सेंधा नमक पानी में घोलकर नाक में टपकाने से हिचकी बन्द हो जाती है।

7. मूली के चार पत्ते खाने से हिचकी बन्द हो जाती है। ये हर तीन घंटे से लें।

8. पुदीने के पत्ते या नीबू को चूसने से हिचकी आनी बन्द हो जाती है।

9. पुराना गुड़ पीसकर इसमें पिसी हुई सोंठ मिलाकर सूंघने से हिचकी चलना बन्द हो जाती है।

10. कोल्ड ड्रिन्क की दुकान से सोडा की बोतल लेकर पिलाने से हिचकी बन्द हो जाती है।

11. हल्का गर्म दूध पीने से हिचकी बन्द हो जाती है।

12. सोंठ पानी में घिसकर सूंघने से हिचकी बन्द हो जाती है।

13. सौंठ, पीपल, आँवला और मिश्री-इन सबको पीसकर शहद के साथ तीन ग्राम हर दो घंटे से चाटने से हिचकी में लाभ होता है।

14. अदरक के बारीक टुकड़े चूसने से हिचकी फौरन बन्द होती है।

15. थोड़ा-सा गरम-गरम देशी घी पी लेने से हिचकी बन्द हो जाती है।

16. घी या पानी में सेंधा नमक पीसकर मिलाकर सूंघने से भी हिचकी बन्द हो जाती है।

17. गन्ने का रस पीने से हिचकी बन्द हो जाती है।

18. एक काली मिर्च सूई में चुभोकर जलायें और इसका धुआँ सुँघायें। इससे हिचकी बन्द हो जाती है।

19. दालचीनी चबाकर चूसें। हिचकी बन्द हो जायेगी।

20. हर दो घंटे में इलायची खाने से हिचकी बन्द हो जाती है।

21. 10 ग्राम राई, 250 ग्राम पानी में उबाल कर छान कर गुनगुना रहने पर पिलाने स हिचकी बन्द हो जाती है, हिचकी चाहे किसी भी कारण से हो।

22. 12 ग्राम तुलसी का रस, 6 ग्राम शहद दोनों को मिलाकर पीने से हिचकी बन्द हो जाती है।