प्यास अधिक लगने के घरेलू उपाय – Home remedies for excessive thirst in hindi

1.  दो केले रोजाना तीन बार खाने से प्यास कम लगती है।और गला सूखना ठीक हो जाता है।

2.ज्वार की रोटी रोजाना छाछ में भिगोकर खाने से प्यास लगना कम होता है।

3.प्यास अधिक लगने पर एक कप जौ कूट लें फिर दो गिलास पानी में आठ घण्टे भीगने दें। फिर इसे उबालें। इसके पानी को छानकर इस गरमा-गरम पी ले। इससे प्यास लगना कम हो जायेगा

4. रोज तरबूज खाने से प्यास लगना कम हो जाता है।

5. तरबूज के रस में मिश्री मिलाकर सुबह पिने से अधिक प्यास की समस्या खत्म हो जाती है।

6. प्यास अधिक लगने पर नारंगी खाने से प्यास कम होती है।

7. गुलाब का गुलकन्द रोजाना तीन चम्मच सुबह-शाम खाकर एक गिलास पानी पीयें। इससे प्यास कम लगती है।

8. हरा धनिया और सूखा आँवला, दोनों की चटनी बना कर नित्य खाने से अधिक प्यास,कण्ठ सूखना ठीक हो जाता है

9.सेब का रस पानी में मिलाकर पीने से प्यास कम लगती है।

10.प्यास की तीव्रता होने पर दो गिलास उबलते पानी में तीन लौंग डालकर पानी ठंडा करके पिलायें। इससे प्यास कम हो जाती है।

11.किसी भी रोग में यदि प्यास अधिक हो तो तुलसी के पत्तों को पीसकर, पानी में मिलाकर, नीबू निचोड़कर, मिश्री मिलाकर पिलाने से प्यास कम हो जाती है।

12. प्यास अधिक हो तो गर्म पानी पीने से ठीक हो जाती है।

13.एक गिलास पानी में नीबू निचोड़ कर पीने से प्यास कम लगती है।

14.बारह छोटी इलायची के छिलके एक गिलास पानी में उबालें। आधा पानी रहने पर इसके चार हिस्से करके चार बार हर दो घण्टे से पिलायें। प्यास अधिक नहीं लगेगी।