फिटकरी के फायदे – Fitkari Ke Fayde In Hindi

फिटकरी के फायदे – Fitkari Ke Fayde In Hindi


1. 200 ग्राम दही में चुटकी भर फिटकरी घोल कर पीने से पीलिया शीघ्र ठीक हो जाता है।

2. चने की दाल के बराबर पिसी हुई फिटकरी गर्म पानी से नित्य तीन बार लेने से कूकर खांसी ठीक होती है।

3. आधा ग्राम पिसी हुई फिटकरी, शहद में मिलाकर चाटने से दमा, खाँसी में आराम आता है।

4. एक ग्राम फिटकरी, दो ग्राम चीनी में मिलाकर मलेरिया आने से पहले दो-दो घण्टे से दो बार दें। मलेरिया नहीं आयेगा और आयेगा तो कम।

5. करेले के रस को थोड़ा-सा गर्म करके उसमें पिसी हुई फिटकरी डाल कर कुल्ला करने से भी छाले ठीक होते हैं।

6. गाय के कच्चे दूध में फिटकरी घोलकर सूंघने से नकसीर ठीक हो जाती है।

7. फिटकरी पानी में घोलकर उसमें कपड़ा भिगोकर ललाट पर रख दें। 5-10 मिनट में रक्त बन्द हो जायेगा।

8. मल-त्याग के बाद नित्य फिटकरी को पानी में घोलकर गुदा धोयें, अन्दर पिचकारी दें। इससे खूनी बवासीर में लाभ होता है।

9. खुजली होने पर गरम पानी में फिटकरी मिलाकर धोने से लाभ होता है।

10. 50 ग्राम पिसी हुई हल्दी में 5 ग्राम भुनी हुई फिटकरी मिलाकर नित्य मंजन करने से दांत चमकने लगते हैं।

11. बादाम का छिलका जला कर ढक दें। दूसरे दिन पीसें और राख का पाँचवाँ भाग फिटकरी मिलाकर पुन: पीस लें। इससे मंजन करने से दाँत साफ होंगे

12. दाँत में छेद हो, दर्द हो तो फिटकरी रुई में रख कर छेद में दबा लें और लार टपकायें। दाँत दर्द ठीक हो जायेगा।

13. एक भाग नमक, दो भाग फिटकरी बारीक पीसकर मसूड़ों पर नित्य तीन बार मलें। फिर एक गिलास गर्म पानी में पाँच ग्राम फिटकरी मिलाकर कुल्ले करें। इससे मसूड़े व दाँत मजबूत होंगे, रक्त, मवाद आना बन्द हो जायेगा।

14. पायोरिया, मसूड़ों में दर्द, सूजन, रक्त आता हो तो एक भाग नमक, दो भाग फिटकरी बारीक पीसकर मसूड़ों पर रोजाना तीन बार मलें। फिर एक गिलास गर्म पानी में पाँच ग्राम फिटकरी डाल कर हिलाकर कुल्ले करें। इससे मसूड़े व दाँत मजबूत होंगे, उनसे रक्त मवाद आना बन्द हो जाएगा।

15. एक ग्राम फिटकरी, चालीस ग्राम गुलाब जल में मिलाकर शीशी भर लें। इसकी दो-दो बूंद आँखों में कई बार डालें। आँखों का दर्द, लाली, कीचड़ आना बन्द हो जायेगा।

16. 6 ग्राम फिटकरी को पानी में घोलकर पिलाने से शराब का नशा उतर जाता है।

17. एक चम्मच पिसी हुई फिटकरी, 250 ग्राम दूध में घोलकर पिलाने से शराब का नशा उतर जाता है।

18. कान में चींटी चली जाए, तो इससे कान में सुरसुरी हो तो फिटकरी को पानी में घोलकर कान में डालें। इससे चींटी  बाहर आ जाती है।

19.चोट लगने पर चार ग्राम फिटकरी को पीसकर आधा गिलास दूध में मिलाकर पिलाने से  लाभ होता है

20.  ताजा घाव हो, चोट, खरोंच लगकर घाव हो गया हो, रक्त बह रहा हो, ऐसे घाव को फिटकरी से धोयें तथा घाव पर फिटकरी को पीसकर इसका पाउडर छिड़क कर लगाने, भुरकने से रक्त-स्राव बन्द हो जाता है।

21. आधा चम्मच पिसी हुई फिटकरी, आधे कप गर्म पानी में घोल का निकली जगह इसे लगायें और धोयें। पित्ती में लाभ होगा।

22. तीन पान (नागरबेल) और एक चम्मच फिटकरी पानी में डाल कर और पीसकर पित्ती निकली हुई जगह पर मालिश करने से पित्ती ठीक हो जाती है।

23. बिच्छू द्वारा काटे गए स्थान पर फिटकरी पानी में पीस कर लेप करें। आराम मिलेगा।