अश्वघोष के अनमोल विचार – Asvaghosa Quotes In Hindi

अश्वघोष के अनमोल विचार - Asvaghosa Quotes In Hindi

अश्वघोष के अनमोल विचार – Asvaghosa Quotes In Hindi


Quote: 1 ज्यादा धन संपन्न होने पर भी जो लोग असंतुष्ट रहते है, वह सदा ही निर्धन रहते है। धन से रहित रहने पर भी जो लोग संतुष्ट है, वह लोग सदा ही धनी होते है।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 2 नियम में जमे रह कर मर जाना बहुत ही अच्छा है, न की नियम से निकलकर जीवन धारण करना।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 3 जिस प्रकार से आसमान में बादल एक साथ होकर फिर अलग-अलग हो जाते हैं , ठीक उसी प्रकार इंसानों का संयोग और वियोग होता है।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 4 यदि शुद्ध आशय हो तो रूखे-सूखे वचन को भी सज्जन रूखा-सूखा नहीं समझता है।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 5 पेड़ो पर रहने वाले पक्षी समागम के बाद अलग-अलग दिशाओं में चले जाते हैं , ठीक उसी तरह से इन्सान के समागम का अन्त वियोग होता है।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 6 दोस्त दुश्मन हो जाता है , और दुश्मन दोस्त हो जाते है , इस दुनिया में बस कार्यवश ही लोग प्यार करते है , और प्यार को तोड़ते है |

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 7 सत्य को न देखने की वजह से ये संसार जला है, और ये आज भी जल रहा है और आगे भी जलता रहेगा।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 8 आत्मवान संयमी इन्सान को न तो विषय में आशक्ति होती है और न वे लोग विषयों के लिए युक्ति ही करते हैं।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 9 श्रद्धारूपी धन सभी धनो में श्रेष्ठ है।

Asvaghosa – अश्वघोष

Quote: 10 यदि आप विषयों की खोज करते है तो आपको दु:ख ही होगा| यदि आपको उनकी प्राप्ति भी हो जाती है , तो भी आपको तृप्ति नहीं मिलेगी ।

Asvaghosa – अश्वघोष

 
Top