पेचिश (आंव) के घरेलू उपाय – Aav Ke Gharelu Upay In Hindi

पेचिश (आंव) के घरेलू उपाय – Aav ke gharelu upay in Hindi


1.  सौंठ पीसकर समान मात्रा में गुड़ मिला लें। नित्य मटर के दाने के समान दो गोलिया बना ले। और सुबह शाम खाये। ऑव आना बन्द हो जायेगा

2.   पाव भर दूध में आधा चम्मच सौंठ का चूर्ण डालकर उबाल लें, कुछ अच्छा पक जाए तब उतार कर ठण्डा करें। इसे सोते समय 4-5 दिन तक पीने से आँव समाप्त हो जाती है।

3.   नीम की हरी पत्तियों को धोकर छाया में सुखा लें। फिर पीस लें। इसे आधा चम्मच सुबह-शाम खाने के बाद दो बार ठंडे पानी से फंकी लें। कुछ दिन लेते रहने से आँव आना बन्द हो जाता है।

4. आँव होने पर एक कली लहसुन के साथ मूंग के बराबर अफीम खाने से आँव बन्द हो जाती है।

5.  आधे चम्मच घी में पाँच कली लहसुन की मिला कर चबायें। आँव बनना बन्द हो जायेगा।

6. सौंफ का तेल पाँच बूँद आधा चम्मच चीनी डालकर नित्य चार बार लेने से आँव आना बन्द हो जाता है।

7. सौ ग्राम सौंफ को सेककर पीस लें। इसमें सौ ग्राम पिसी हुई मिश्री मिलायें। भोजन के बाद इसकी दो चम्मच सुबह-शाम ठण्डे पानी से फंकी लें।ऑव आना बंद हो जायेगा

8 .अगर आँव हो तो धनिया और सौंठ का काढ़ा पिलायें इससे लाभ होगा।

9.   एक चाय का चम्मच ईसबगोल गर्म दूध में फुलाकर रात्रि को सेवन करें। प्रात: दही में भिगोकर फुलाकर उसमें नमक, सौंठ और जीरा मिलाकर पिलायें। चार दिन लगातार सेवन करने से आँव निकलना बन्द हो जायेगा।

10.  बेल का सूखा गूदा एक-एक भाग तथा ईसबगोल 3 भाग–ये तीनों पीसकर मिला लें। दो चम्मच सुबह-शाम गर्म दूध से फंकी लेने से आँव निकलना बन्द हो जाता है।

11 . हरा धनिया तथा 25 ग्राम सौंफ-इनको पीस कर एक गिलास पानी में घोलकर छान कर पीने से आँव आना बन्द हो जाता है।